0

क्या आप जानते है, वेब ब्राउजर किसे कहते है? नहीं जानते तो कोई बात नही इस पोस्ट में आप जानेंगे Web Browser क्या है इसका क्या कार्य होता है? हालांकि यह कोई ऐसा शब्द नही है जिसके बारे में आपने ना सुना हो. क्योंकि आजकल हर कोई Internet का इस्तेमाल information search करने के लिए करता है. हो सकता है आप इसे वेब ब्राउज़र के नाम से नही जानते हो बल्कि UC Browser, Chrome Browser, Opera Mini, Firefox, Internet explorer इन नामों से जानते हो. परन्तु असल मे यह सब Web browser ही है. अब क्योंकि यह अलग-अलग Software company द्वारा बनाये गए है इसीलिए इनके नाम भी different है.

इसमे जानने योग्य यह बात नही है, कि वेब ब्राउज़र क्या होता है बल्कि Web browser कैसे काम करता है? और इसकी functionality क्या है यह जानना काफी दिलचस्प है. हम में से बहुत लोग internet browser इस्तेमाल तो करते है, लेकिन इसके कई ऐसे hidden features होते है जिनके बारे में हमे कोई जानकारी नही होती है. इस पोस्ट में आपको web browser के बारे में ऐसी बाते जानने को मिलेगी जिससे आपकी पकड़ computer के क्षेत्र में और मजबूत हो जाएगी. तो चलिए सबसे पहले जानते है Web browser क्या है और कौन कौन से वेब ब्राउज़र सबसे बेहतरीन है? उसके बाद इसके बाकी पहलुवों पर बात करेंगे.विषयसूची

Web Browser क्या है

एक Web browser जिसे Internet browser या सिर्फ “Browser” कहा जाता है, एक Application है. जिसका कार्य internet का प्रयोग करके websites को access करना और उन्हें आपके computer पर दिखाना होता है. इसे एक तरह का software program भी कहा जाता है. अगर इसे technical definition में समझना हो तो यह World Wide Web पर information access करने वाला एक software application है. कई बार ज्यादातर लोगों को web browser और search engine में समानता दिखती है, परन्तु यह दोनों बिल्कुल भिन्न है और इनके कार्य भी अलग-अलग है.

Search engine सिर्फ एक website है, जो अन्य कई वेबसाइटों का खोज योग्य data store करता है. कुछ मुख्य सर्च इंजिन वेबसाइट जैसे Google, Bing, Yahoo, Yandex है. इसके विपरीत server से जुड़ने और वेबसाइटों के pages को computer में display करने के लिए आपको एक web browser की आवश्कता होती है.

इनका पहला काम HTML को render करना होता है. HTML एक markup language है, जिसका प्रयोग वेबसाइटों के पेज को design करने में किया जाता है. जब आपका ब्राउज़र किसी webpage को read करता है, उस समय उस वेबपेज का सारा data जैसे – text, image, link इत्यादि सभी एक html document के रूप में मौजूद होता है. ब्राउज़र इन सभी चीजो process करता है उसके बाद उन्हें browser window में आपको दिखाता है.

Web Browser के कार्य क्या होते है

एक वेब ब्राउज़र का क्या कार्य होता है यह जानना बहुत जरूरी है क्योंकि ज्यादातर लोग इसके कार्यो के बारे में कुछ भी नही जानते है. अगर सरल भाषा मे जाने तो एक वेब ब्राउज़र का कार्य उयोगकर्ता के लिए किसी webpage को खोजना और खोलना होता है. यह World Wide Web में किसी webpage के Content को जैसे – text, image, video और अन्य फाइलों को locate, retrieve और display करता है. यह computer और mobile device में चलने वाला client है, जो आपके अनुरोध पर server से सम्पर्क करके वहां मौजूद किसी जानकारी को आप तक लाता है. कंप्यूटिंग में, सर्वर एक कंप्यूटर प्रोग्राम या एक डिवाइस है.

उदाहरण के लिए जब आप अपने browser में एक वेब पेज का URL जैसे – www.nayaseekhon.com डालते है. तो असल मे यह वेब पेज उस समय किसी server पर मौजूद रहता है. इसे आपके सामने परोसने का काम web browser करता है. देखने मे यह process काफी सरल मालूम पड़ती है परन्तु इसके पीछे काफी जटिल प्रकिया होती है.

Web browser के उदाहरण

एक वेब ब्राउज़र किसी computer का सबसे महत्वपूर्ण software होता है. इसके बिना कोई भी online सेवा नही ली जा सकती है. फिर चाहे वह video देखना हो या किसी website से जानकारी लेना इसके इस्तेमाल के बगैर internet का कोई अस्तित्व नही है. तो अब आप समझ चुके होंगे कि वेब ब्राऊज़र क्या होते है. हम आपको web browser के कुछ उदाहरण देते है, जिससे आप इसे पूरी तरह से समझ जाएंगे.

नीचे कुछ popular web browser के उदाहरण दिए गए है. यह सभी आज के समय सबसे ज्यादा इस्तेमाल होते है और इनके अपने अलग-अलग features है.

Google Chrome

यह एक Google product है, जिसे 2008 में गूगल द्वारा जारी किया गया था. Chrome browser लगभग सभी operating system जैसे – Android, iOS, Windows, Linuxको support करता है. अगर आप एक वेबसाइट चलाते है, तो इसमे कई सारे extension है, जिनका उपयोग आप अपने काम को सरल बनाने के लिए कर सकते है. Web browser के रूप में यह बिल्कुल free में उपलब्ध है. इसके incognito mode का इस्तेमाल करके आप private browsing भी कर सकते है. यह एक cross platform वेब ब्राउज़र है. आज के समय सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाले internet browser में इसका नाम सबसे पहले आता है.

Mozilla Firefox

Firefox एक ऐसा वेब ब्राउज़र जो अपनी better performance और extensibility के लिए जाना जाता है. यह Windows और android device के लिए भी उपलब्ध है. आज यह google chrome के बाद दूसरा सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाला internet browser है. यह बिल्कुल free और open source platform है. Firefox web browser को 2002 में Mozilla foundation और Mozilla corporation द्वारा जारी किया गया था. आपको इसमे बाकी वेब ब्राउज़र के मुकाबले ज्यादा features देखने को मिलते है.

UC Browser

Android phone उपयोगकर्ता के लिए यह सबसे बड़िया internet browser है. इसकी file downloading speed खासकर indian user को काफी प्रभावित करती है. यह Ad-block functionality और data saving जैसी विशेषताओं के साथ free में उपलब्ध है. UC Browser को Chinese mobile Company UC Web द्वारा बनाया गया है जिसे Alibaba group चलाता है. यह भी बेहद इतेमाल होने वाला web browser है, mobile के साथ – साथ यह desktop में चलाया जा सकता है.

Opera Mini Browser

इस internet browser से तो आप सब वाकिफ होंगे ही क्योंकि एक समय ऐसा था जब यह अपनी fast speed और data saving के लिए जाना जाता था. आज भी कई लोग इसका इस्तेमाल करते है. यह भी सबसे पुराने web browsers में आता है. Opera Mini को opera software द्वारा 1995 में जारी किया गया था. यह भी Windows, Linux और android जैसे operating system के लिए उपलब्ध है.

Internet Explorer

IE सबसे पुराने web browsers में से एक है. Microsoft द्वारा बनाया यह browser लगभग सभी windows operating system के साथ computer पर पहले से मौजूद होता है. एक समय ऐसा था जिस वक्त इसका बोलबाला था दुनिया के पहले वेब ब्राउज़र Netscape को अगर किसीने पीछे किया तो वह यही Internet explorer था. यह ब्राउज़र पूरी तरह से मुफ्त नही है क्योंकि इसे उपयोग करने के लिए windows license की आवश्यकता होती है. यह Unix, Android और Mac जैसे operating system के लिए उपलब्ध नही है. माइक्रोसॉफ्ट ने अपने मोबाइल यूजर के लिए Microsoft Edge नाम के नए ब्राउज़र को market में जारी किया है.

Web Browser की खोज किसने किया

Web browser का एक पुराना इतिहास है. आज हम जिन browser का इस्तेमाल करते है ये पुराने ब्राउज़र के updated version है. यही प्रक्रिया आगे भी चेलेगी समय के साथ आज के internet browser में बदलाव होंगे और उनमे नयापन लाने की कोशिश होगी. तो चलिए अब वेब broswer के इतिहास में थोड़ी नजर डालते है और जानते है वेब ब्राउज़र की खोज किसने किया.

इसके इतिहास की शुरुवात होती है, जब World Wide Web को Tim Berners-Lee ने 1989 में विकसित किया था. यही वो इंसान थे जिन्होंने first web browser की खोज की. दुनिया के पहले वेब ब्राउज़र का नाम worldwideweb था जिसका बाद में नाम बदलकर Nexus कर दिया गया. अगर इसके निर्माण की बात करे तो यह 1991 के शुरुआती महीनों में जारी किया गया था.

इसके कुछ सालों बाद एक नया web browser जारी किया. जिसे आज हम Mosaic नाम से जानते है. यह उस समय पहला browser था जो text और image को एक साथ browser window में display कर सकता था. इसे National Center for supercomputing Application द्वारा विकसित किया गया था. इसके बाद समय के साथ – साथ कई दूसरे internet browser जैसे – opera, Internet explorer, firefox आये.

Microsoft द्वारा बनाये गये internet explorer ने अपने नए version में कई सारे बदलाव किये. उस समय तक आपको ब्राउज़र में multimedia application और internet mail जैसी सुविधाएं उपलब्ध नही थी. अब क्योंकि ऐसी सुविधाएं लाने वाला यह पहला browser था तो जल्द ही 1999 तक इंटरनेट इस्तेमाल करने वाले लगभग 60% user इसका इस्तेमाल करने लगे. एक तरह से दुनिया के पहले वेब ब्राउज़र को इसने पूरी तरह से पीछे कर दिया था. इसके बाद Steve Jobs ने Apple के पहले वेब ब्राउज़र Safari को पेश किया. जो सभी OS X operating system के साथ शामिल हो गया.

IE ने 2004 तक अपना दबदबा कायम रखा और Nexus को पूरी तरह से खत्म कर दिया. लेकिन जब Firefox को launch किया गया तो internet explorer को काफी हद तक एक अच्छा competition मिलने लगा. साल 2010 यह आंकड़ा बिल्कुल बदल गया अब लगभग 50% internet user को firefox पसंद आने लगा था. अब तक Google chrome भी बाजार में आ चुका था और लगभग 10% user इसका इस्तेमाल करते थे. साल 2015 तक आते – आते यह आंकड़े बिल्कुल बदल चुके है लगभग 60% user गूगल के Chrome browser को इस्तेमाल करते है. उसके बाद दूसरे नंबर में आता है, Firefox और अब internet explorer को इस्तेमाल करने वाले 5% user बचे है.

तो आपने देखा किस तरह से इस क्षेत्र में लगातार बदलाव होते है अभी यह स्थिति आगे और बदलने वाली है. उम्मीद है इसमे कुछ नए invention होंगे और हमे कुछ नया देखने को मिलेगा. कैसे काम करता है

Web Browser कैसे काम करता है

World Wide Web एक client server model पर काम करता है. जब हम किसी webpage को इंटरनेट पर खोजते है, तो browser उस वेबपेज के server से contact करके request files को लाकर और उसकी fatching करके उयोगकर्ता के computer screen पर display कर देता है. यहां user computer एक client के रूप में कार्य करता है. अब यह पूरी परिक्रिया आपको बहुत आसान लग रही होगी क्योंकि जब भी आप किसी webpage की request करते है या किसी link पर click करते है तो वह आपके सामने पलक झपकते ही खुल जाता है. लेकिन वास्तविकता यह है कि इसके पीछे की process बहुत जटिल है. इसके पीछे की पूरी प्रक्रिया को समझने के लिए हमे इसके कुछ मुख्य चरणों को समझना होगा . 

पहला चरण – जब हम किसी internet browser के address bar में कोई URL दर्ज करते है, तो यह सबसे पहले DNS Server से contact करता है. DNS Server में सभी websites के domain name के records मौजूद रहते है. जब यह एक दूसरे से जुड़ते है तो DNS Server ब्राउज़र से domain name को लेता है उसके records को check करता है और browser को उस domain के सर्वर का IP Address देता है. 

दूसरा चरण – अब browser को जैसे ही उस server का IP Address मिलता है तो ब्राउज़र server को उस webpage के लिए request भेजता है.

HTTP एक protocol है, जो browser को server के साथ communicate करने में मदद करता है  वही www.nayaseekhon.com जो DNS Server द्वारा IP Address में बदला जाता है. इसे हम किसी web server का पता भी कह सकते है. 

तीसरा चरण – अब क्योंकि कोई भी webpage सर्वर के अंदर HTML file के रूप में होता है जिसे browser बदलकर उसके असली रूप में लाता है. इस पूरी process को rendering कहा जाता है. यह हो जाने के बाद ही आप अपने device में उस वेब पेज को देख पाते है. 

Conclusion

अब तक आप समझ चुके होंगे Web browser क्या है इसका कार्य क्या होता है? अगर आप technology या computer के क्षेत्र में interests रखते होंगे तो आपको यह लेख काफी पसंद आया होगा. इस वेबसाइट पर आपको ऐसी ही कई सारी पोस्ट आगे भी देखने को मिलेगी जिससे आपके ज्ञान में काफी व्रद्धि होगी. अगर आपको इस लेख में कोई कमी या फिर जानकारी का अभाव लगता है, तो कृपया नीचे comment में हमारे साथ जरूर शेयर करे आपके कमेंट का जवाब जरूर दिया जाएगा.

अं